एमेनोरिया क्या है? What is Amenorrhoea? महिलाओं के मासिक चक्र सम्बन्धी समस्या और निदान

एमेनोरिया क्या है?

Menstrual Periods: मासिक धर्म/पीरियड/ मासिक स्राव/मासिक चक्र/माहवारी/ महीना/रजस्वला स्त्री के लिए महवत्वपूर्ण जानकारी और निदान.

एमेनोरिया क्या है?एमेनोरिया (Amenorrhoea):  महिलाओं में एक या एक से अधिक मासिक चक्र में मासिक स्राव की अनुपस्थिति को एमेनोरिया कहा जाता है। जो महिला लगातार तीन महीने तक मासिक  स्राव रहित रहती हैं उन्हें एमेनोरिया होता है। एमेनोरिया दो श्रेणियों में बाँटा गया है. Amenoriya ke bare me jankari:-

1. प्राथमिक एमेनोरिया Primary Amenorrhoea: मासिक धर्म शुरुआत से होने वाला और आमतौर पर जीवन भर रहने वाला ऐसा मासिक स्राव किशोरावस्था में प्रारंभ नहीं हुआ होता।

2. द्वितीयक एमेनोरिया Secondary Amenorrhoea: मासिक धर्म ऐसी स्थिति जिसमें किसी समय नियमित और सामान्य रहा मासिक चक्र एकाएक बढ़कर असामान्य और अनियमित या अनुपस्थित हो जाता है।

What is Amenorrhoea

जाँच और परीक्षण – Test and Examination of Amenorrhoea

जाँच और परीक्षण: रोग का निर्धारण स्त्री रोग चिकित्सक द्वारा रोगी के चिकित्सीय इतिहास के परीक्षण और पेल्विक क्षेत्र सहित संपूर्ण शारीरिक परीक्षण पर निर्भर करता है। कई प्रकार के रक्त परीक्षण आवश्यक होते हैं, जिनमें हैं:-

  • गर्भाधान परीक्षण – Pregnancy Test/ Conception test.
  • थाइरोइड की कार्यक्षमता का परीक्षण – Testing the functionality of thyroid.
  • अंडग्रंथि की कार्यक्षमता का परीक्षण – Test the functionality of the ovaries.
  • हार्मोन परीक्षण – Hormone test.
  • अन्य स्केन्स, जिनमें सीटी स्कैन और प्रजनन तंत्र की अल्ट्रासाउंड जाँच – Other scans, including CT scans and ultrasound examination of the reproductive system. Amenoriya kya hai, amenoriya kaise hota hai, amenoria ke karan lakshan aur upchar.

Maahvari/ Masik Dharm/ Maasik Chakra/ Masik Shrav/ Maina  ke dauran kya kare kya na karen 

 Common Questions/ Answered 

एमेनोरिया क्या है? – What is Amenorrhoea

Amenorrhoea: एमेनोरिया एक या अधिक मासिक चक्र में मासिक स्राव की अनुपस्थिति को कहा जाता है। जो महिलाऐं लगातार तीन मासिक तक स्राव रहित रहती हैं, उन्हें एमेनोरिया होता है। इसे दो श्रेणियों में बाँटा गया है:-

प्राथमिक एमेनोरिया – शुरुआत से होने वाला और आमतौर पर जीवन भर रहने वाला; मासिक स्राव किशोरावस्था में प्रारंभ नहीं हुआ होता।

द्वितीयक एमेनोरिया – यह ऐसी स्थिति है जिसमें किसी समय नियमित और सामान्य रहा मासिक चक्र एकाएक बढ़कर असामान्य और अनियमित या अनुपस्थित हो जाता है।

एमेनोरिया से ग्रस्त होने पर महिला को क्या करना चाहिए? What should a woman do when suffering from amenorrhea?

  • जब आपका मासिक चक्र शुरू हो तो उसकी व्यवस्थित जानकारी रखें।
  • मासिक शुरू होने की तारीख, यह कितने समय तक रहा और आपने कौन से कठिन या परेशानी वाले लक्षण अनुभव किये, आदि सब दर्ज करें।
  • आवश्यक तेलों से नियमित मालिश तनाव को कम करती है और संपूर्ण स्वास्थ्य को सुधारती है।

व्यक्ति को डॉक्टर से संपर्क कब करना चाहिए? When should a person contact a doctor ?

डॉक्टर से संपर्क करें:-

  • यदि आपका एक मासिक चक्र नहीं आया है।
  • अपने संतुलन, सामंजस्य या दृष्टि सम्बन्धी कठिनाई है।
  • स्तनों से दूध उत्पन्न होने लगा है, जबकि आपने जन्म नहीं दिया है।
  • शरीर पर बालों की अत्यधिक वृद्धि हो रही है।
  • आपकी आयु 16 वर्ष से अधिक है और आपका पहला मासिक चक्र अभी तक नहीं आया है।

इस स्थिति को कैसे रोका जा सकता है? How can this situation be prevented?

  • एमेनोरिया से बचाव का उत्तम उपाय है स्वस्थ जीवन शैली का पालन करना।
  • उचित वजन बनाए रखें ।
  • तनाव और भावनात्मक समस्याओं से उबरने के तरीके ढूँढें।
  • अपने पेल्विक क्षेत्र और पेप स्मीयर को निश्चित समय पर करवा लें।

मेनोरेजिया की जानकारी – अधिक मासिक धर्म चक्र, माहवारी, रक्त स्राव, अति-रजोनिवृति या भारी मासिक चक्र को नियंत्रित कैसे करें? –  के लिए यहाँ क्लिक करें

Seven Ways Girls to Join Indian Army – महिलाये भारतीय सेना में सात प्रकार से भर्ती हो सकती हैं पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Indian Army Women Bharti Medical Exam for Female/Girls

अमेनोरिया या मेनोरेजिया महिला उम्मीदवार: सेना पुलिस महिला आर्मी भर्ती चिकित्सा परीक्षा के समय, सभी उम्मीदवारों को अनिवार्य रूप से एक प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा कि वे प्राथमिक / माध्यमिक अमेनोरिया या मेनोरेजिया (मासिक चक्र में मासिक स्राव सम्बन्धी शिकायत) से पीड़ित नहीं हैं।

Amenorrhoea or Menorrhagia: At the time of the recruiting medical test, all candidates will invariably be required to render a certificate that they do not suffer primary/secondary amenorrhoea, or menorrhagia. Candidates with the above mentioned conditions will be declared medically UNFIT

Amenoriya Asamnya Maahvari/ Masik Dharm/ Maasik Chakra/ Masik Shrav/ Rajnivriti/ Rajnovriti/ Mahvari  ke samay kya kare kya na karen. Amenoriya kya hai. Amenoria ke lakshan karan aur upchar. Amenoriya kaise hota hai. Amenoriya ke karan lakshan aur upchar.

Leave a Reply

Don`t copy text!